दुकान-दफ्तर में भूलकर भी न लगाएं देवी-देवताओं की ऐसी तस्वीरें, रूठ जाएंगी लक्ष्मी

वास्तु शास्त्र हर तरह से मनुष्य के जीवन में महत्व रखता है. घर से लेकर ऑफिस तक हर गतिविधियों में वास्तु शास्त्र अपना महत्व रखता है. पूजा घर और वास्तु शास्त्र का आपस में खास संबंध है. अगर किसी मनुष्य के घर में किसी प्रकार का वास्तु दोष है तो उसका प्रभाव उस व्यक्ति के जीवन पर पड़ता है, लेकिन अगर वास्तु दोष व्यक्ति के पूजा घर में हो तो इसका सीधा असर व्यक्ति की किस्मत पर पड़ता है.

अगर व्यक्ति का पूजा घर वास्तु शास्त्र के अनुसार है तो व्यक्ति के जीवन में सुख-समृद्धि आती है. इसी प्रकार यदि दुकान, ऑफिस आदि में बना हुआ पूजा घर भी बहुत महत्व रखता है. इसमें हुई एक गलती भी व्यक्ति के भाग्योदय में रुकावट बन सकती सकती है. आइए जानते हैं पंडित कमल नंदलाल से कि वास्तु शास्त्र अनुसार आप के ऑफिस, दुकान और फैक्ट्री के पूजा घर में किन देवी-दैवताओं की बैठी हुई तस्वीर आप को नुकसान पहुंचा सकती है.

अक्सर आप लोग ये गलती करते हैं कि अपने दुकान, फैक्ट्री या ऑफिस में बने पूजा घर में देवी-देवताओं की कई तस्वीरें लगा देते हैं जो नहीं लगानी चाहिए. वास्तु शास्त्र के अनुसार, इन जगहों के पूजा घर में भगवान गणेश, मां सरस्वती और मां लक्ष्मी की बैठी हुई तस्वीर कभी नहीं लगानी चाहिए. यह अशुभ माना जाता है।

वास्तु के शास्त्र अनुसार, इन तीनों भगवान की बैठी हुई तस्वीर कभी भी नहीं लगा नी अशुभ मानी जाती है. माता सरस्वती की बैठी हुई तस्वीर का अर्थ होता है आप के ज्ञान का का कम हो जाना यानी आपके अंदर बुद्धि, विवेक और ज्ञान अभाव हो जाना.

गणपति का अर्थ होता है श्री गणेश करना के साथ शुभ और लाभ का आगमन होना. ऐसे में गणेश जी की बैठी हुई तस्वीर से ना तो आप का शुभ होगा और ना ही लाभ आएगा. इसलिए दुकान, फैक्ट्री या ऑफिस आदि में जहां आप धन रख ते है करने के लिए काम करते हैं वहां इन भगवान की बैठी हुई तस्वीर नहीं लगानी चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *